Category - hindi sms

hindi sms


ना तुम अपने आप को गले लगा सकते हो,

ना ही तुम अपने कंधे पर सर रखकर रो सकते हो।

एक दूसरे के लिये जीने का नाम ही जिंदगी है।

इसलिये वक़्त उन्हें भी दो जो तुम्हे चाहते है दिल से।

रिश्ते पैसो के मोहताज़ नहीं होते।

क्योकि कुछ रिश्ते मुनाफा नहीं देते
पर अमीर जरूर बना देते है।



Explore hindi sms

सुबह की “चाय” और बड़ों की “राय”समय-समय पर लेते रहना चाहिए …..
पानी के बिना नदी बेकार है,
अतिथि के बिना आँगन बेकार है,
प्रेम न हो तो सगे-सम्बन्धी बेकार है,
पैसा न हो तो पाकेट बेकार है,
और जीवन में गुरु न हो
तो जीवन बेकार है,,
इसलिए जीवन में
“गुरु”जरुरी है.. “गुरुर” नहीं.



Explore hindi sms

” कहने लगी है अब तो मेरी तन्हाई भी मुझसे,
मुझसे ही कर लो मोहब्बत, मैं तो बेवफा नही.!



Explore hindi sms Shayari SMS

एक बार पुलिस ने 3 लड़के और 1 लड़की को जंगल
में पकड़ा
पुलिस : तुम्हारा नाम क्या है और
यहाँ क्या कर रहे थे ?
लड़का : सर मै गोपाल हूं और
बांसुरी बजा रहा था ।
पुलिस : ठीक है तुम जा सकते हो।
दूसरा लड़का : सर मेरा नाम मोहन है और मैं
बांसुरी बजा रहा था।
पुलिस : तुम जा सकते हो।
तीसरा लड़का : सर मेरा नाम किसन हैं और मैं
भी बांसुरी बजा रहा था।
पुलिस : तुम भी जा सकते हो।
पुलिस लड़की से : क्या तुम
भी बांसुरी बजा रही थी ?
लड़की : नही सर मेरा नाम बांसुरी हैं ।😜😜😜😜😜😜



Explore hindi sms Naughty jokes NoneVeg

पप्पू : मम्मी कल पापा कामवाली को सोफे
पर लेटाकर…
.
.
मम्मी : अभी नहीं बेटा..! जब रात को जब
पापा आयें तो फिर बताना…!
.
.
पापा के आते ही…
.
मम्मी : हाँ बेटा अब बताओ कि क्या हुआ?
.
.
पप्पू : पापा कामवाली को सोफे पर लेटाकर
जो शर्मा अंकल आप के साथ करते
हैं… वो कर रहे थे.



Explore Funny Jokes hindi sms

एक आदमी स्कूटर पर बैठ कर
पिक्चर हाल के सामने संता से
पूछ बैठा :-
आदमी :- भाईसाहब , स्कूटर
स्टैंड कहाँ है ?
संता :- भाईसाब , पहले आप
अपना नाम बताइये ?
आदमी :- रमेश !
संता :- आपके
माता पिता क्या करते हैं ?
आदमी :- क्यों ? वैसे
भाईसाब मैं , लेट
हो जाऊंगा और पिक्चर शुरू
हो जाएगी !
संता :- तो जल्दी बताओ ??
आदमी :- मेरी माँ , एक
डॉक्टर हैं और मेरे
पिता जी इंजीनियर हैं ! अब
बता दीजिये ?
संता :- आपके नाम कोई
जमीन जायजाद है ?
आदमी :- हाँ , गांव में एक खेत
मेरे नाम है ? प्लीज़ भाईसाब
अब बता दीजिये स्कूटर
का स्टैंड कहाँ है ?
संता :- आखिरी सवाल , तुम
पढ़े लिखे हो ?
आदमी :- जी हाँ ! मैं, MBA
कर रहा हूँ ! अब बताइये
जल्दी से !
संता :- भाईसाब , देखिये
आपकी पारिवारिक
पृष्ठभूमि इतनी अच्छी है ,
आपके
माता पिता दोनों उच्च
शिक्षित हैं , आप खुद भी इतने
पढ़े लिखे हैं ,
पर मुझे अफ़सोस है
कि आप इतनी सी बात
नहीं जानते कि….
स्कूटर
का स्टैंड उसके नीचे
लगा होता है ,….



Explore hindi sms

हरिवंशराय बच्चन की बहुत
ही अच्छी पंक्तियाँ-
“जब मुझे यकीन है के भगवान मेरे साथ है।
तो इस से कोई फर्क नहीं पड़ता के कौन कौन
मेरे खिलाफ है।।”
+
तजुर्बे ने एक बात सिखाई है…
एक नया दर्द ही…
पुराने दर्द की दवाई है…!
+
हंसने की इच्छा ना हो…
तो भी हसना पड़ता है…
कोई जब पूछे कैसे हो…??
तो मजे में हूँ कहना पड़ता है
+
ये ज़िन्दगी का रंगमंच है दोस्तों….
यहाँ हर एक को नाटक करना पड़ता है.
“माचिस की ज़रूरत
यहाँ नहीं पड़ती..
यहाँ आदमी आदमी से जलता है…!
+
जल जाते हैं मेरे अंदाज़ से मेरे दुश्मन
क्यूंकि एक मुद्दत से मैंने न मोहब्बत
बदली और न दोस्त बदले .!!.
+
एक घड़ी ख़रीदकर हाथ मे
क्या बाँध ली..
वक़्त पीछे ही पड़ गया मेरे..!!
+
सोचा था घर बना कर बैठुंगा सुकून से..
पर घर की ज़रूरतों ने मुसाफ़िर बना डाला !!!
+
सुकून की बात मत कर ऐ ग़ालिब….
बचपन वाला ‘इतवार’ अब नहीं आता |
+
जीवन की भाग-दौड़ में –
क्यूँ वक़्त के साथ रंगत खो जाती है ?
हँसती-
खेलती ज़िन्दगी भी आम
हो जाती है..
+
एक सवेरा था जब हँस कर उठते थे हम
और
आज कई बार
बिना मुस्कुराये ही शाम हो जाती है..
+
कितने दूर निकल गए,
रिश्तो को निभाते निभाते..
खुद को खो दिया हमने,
अपनों को पाते पाते..
+
लोग कहते है हम मुस्कुराते बहोत है,
और हम थक गए दर्द छुपाते छुपाते..
+
“खुश हूँ और सबको खुश रखता हूँ,
लापरवाह हूँ फिर भी सबकी परवाह
करता हूँ..
+
चाहता तो हु की ये दुनिया बदल दूं ….
पर दो वक़्त की रोटी के जुगाड़ में
फुर्सत नहीं मिलती दोस्तों
+
यूं ही हम दिल को साफ़ रखा करते थे
पता नही था की,
‘कीमत
चेहरों की होती है!!’
+
“दो बातें इंसान को अपनों से दूर कर देती हैं,
एक उसका ‘अहम’ और दूसरा उसका ‘वहम’
+
” पैसे से सुख
कभी खरीदा नहीं जाता और
दुःख का कोई खरीदार नहीं होता।”
+
किसी की गलतियों को बेनक़ाब ना कर,
‘ईश्वर’ बैठा है, तू हिसाब ना कर….



अजब तेरी दुनिया
गज़ब तेरा खेल

मोमबत्ती 🎍जलाकर मुर्दों को याद करना
और मोमबत्ती 🎍बुझाकर जन्मदिन मनाना